राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र: Rajasthan Haisiyat Praman Patra फॉर्म, पीडीऍफ़

Rajasthan Haisiyat Praman Patra Online Apply | राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन | Haisiyat Praman Patra Rajasthan Application Form Pdf, पात्रता एवं नियम जाने

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते हो की आज कल सभी काम डिजिटल के माध्यम से बेहद आसान कर दिए गए है उसी तरह राजस्थान सरकार के माध्यम से अब हैसियत प्रमाण पत्र बनवाना भी डिजिटलीकरण के द्वारा बेहद आसान कर दिया गया है। आप सबको पता ही होगा की कि हैसियत प्रमाण पत्र आप की सालाना आय, मासिक आय के अनुसार बना होता है जिसमें आपकी आय, संपत्ति जुड़ी जानकारी दर्ज होती है राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र को विभिन्न नामों से भी जाना जाता है जैसे सॉल्वेंसी सर्टिफिकेट, संपत्ति प्रमाण पत्र और वैल्यू प्रमाण पत्र आदि। अब हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आपको किसी भी सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की आवशयकता नहीं पड़ेगी। अब राजस्थान सरकार के माध्यम से Rajasthan Haisiyat Praman Patra बनवाने की सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध कर दी गई है अब आप बेहद आसानी के साथ हैसियत प्रमाण पत्र बनवा सकते है जिससे आपकी समय एवं पैसे की बचत भी होगी। आपके द्वारा  हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन देने के बाद 1 महीने के अंदर ही राजस्व विभाग के अंतर्गत हैसियत प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाता है। तो आज हम आपको अपने इस लेख के द्वारा Rajasthan Haisiyat Praman Patra से जुड़ी जानकारिया उपलब्ध कराने जा रहे है।

राजस्थान  हैसियत प्रमाण पत्र

Rajasthan Haisiyat Praman Patra 2023

राजस्थान सरकार के माध्यम से Rajasthan Haisiyat Praman Patra बनवाने के लिए ऑनलाइन की सुविधा जारी कर दी गई है अब राजस्थान के नागरिकों को हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए किसी भी सरकारी दफ़्तर में जाने की आवशयकता नहीं पड़ेगी। अब वह आसानी के साथ घर बैठे ही ऑनलाइन के माध्यम से हैसियत प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकेंगे। Rajasthan Haisiyat Praman Patra एक ऐसा पत्र होता है जिसकी सहायता से नागरिक की आर्थिक स्थिति के बारे में पता लगता है। अगर आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी होती है तो आप किसी भी सरकारी टेंडर हासिल करने के लिए हैसियत प्रमाण पत्र के तहत से आवेदन कर सकते हैं इतना ही नहीं बल्कि आप नए कारोबार को शुरू करने के लिए बैंक से लोन भी प्राप्त कर सकते है।  हैसियत प्रमाण पत्र की मान्यता केवल 2 वर्ष के लिए ही होती है। 2 वर्ष के बाद आपको दूसरा हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन करना होता है  क्युकि बढ़ते समय क साथ आय में परिवर्तन होता रहता है जिसके बाद आय, संपत्ति में भी बढ़ोत्तरी होती रहती है। हैसियत प्रमाण पत्र में आवेदक की सालाना आय, मासिक वेतन, जमीन, बीमा, बैंक में उपस्थित पैसे संपत्ति ज्वेलरी आदि का जानकारी उपलब्ध होती है। उसके बाद राज्य के राजस्व विभाग के अंतर्गत हैसियत प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाता है।

राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र 2023 Key Highlights

आर्टिकल का नामRajasthan Haisiyat Praman Patra
विभागराजस्व विभाग राजस्थान  
लाभार्थी  राज्य के नागरिक
उद्देश्यसभी सरकारी सेवाओं का लाभ उपलब्ध कराना  
राज्य  राजस्थान
साल  2023
आवेदन प्रक्रिया  ऑनलाइन/ऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइट  sso.rajasthan.gov.in

Rajasthan Haisiyat Praman Patra का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के नागरिको को आसानी के साथ घर बैठे ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर हैसियत प्रमाण पत्र के लिए आवेदन की सुविधा उपलब्ध करना ही Rajasthan Haisiyat Praman Patra का मुख्य उद्देश्य है राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र एक ऐसा पत्र होता है जिसकी सहायता से नागरिक की आर्थिक स्थिति के बारे में पता लगता है। हैसियत प्रमाण पत्र की 2 साल की मान्यता होती है समय के साथ आपकी आय में भी वृद्धि होती है जिसके आधार पर हर 2 वर्ष में इसको बनवाना पड़ता है अगर आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी होती है तो आप किसी भी सरकारी टेंडर हासिल करने के लिए हैसियत प्रमाण पत्र के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं और आप नए कारोबार को शुरू करने के लिए बैंक से लोन भी प्राप्त कर सकते है।

Rajiv Gandhi Shahri Olympic Khel

Rajasthan Haisiyat Praman Patra के लाभ

  • हैसियत प्रमाण पत्र की मदद से आप सरकारी टेंडर भी प्राप्त कर सकते है।
  • नया कारोबार शुरू करने के लिए आप हैसियत प्रमाण पत्र दिखाकर बैंक से लोन की भी प्राप्ति कर सकते है।
  • Rajasthan Haisiyat Praman Patra एक ऐसा दस्तावेज होता है जिसमें आपकी आर्थिक स्थिति की जानकारी उपलब्ध होती है।
  •  हैसियत प्रमाण पत्र सरकारी कार्यो में निवेश करने के लिए भी बहुत लाभदायक होता है।
  • जिनकी सेवा और वस्तु की लागत दूसरी वस्तु की लागत से अधिक होती है आप उन सभी वस्तुओं के लिए भी Rajasthan Haisiyat Praman Patra का इस्तेमाल कर सकते है। 
  • हैसियत प्रमाण पत्र में आवेदक की सालाना आय, मासिक वेतन, जमीन, बीमा, बैंक में उपस्थित पैसे संपत्ति ज्वेलरी आदि का जानकारी उपलब्ध होती है।

राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र के लिए पात्रता

  • राज्य के सभी वर्ग के नागरिक हैसियत प्रमाण पत्र बनवा कर लाभ प्राप्त कर सकते है।
  •  आवेदक को राजस्थान का मूल निवासी होना अनिवार्य है।
  •  आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

Rajasthan Haisiyat Praman Patra बनवाने हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • भामाशाह कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • संपत्ति से जुड़े कागजात
  • भूमि से जुड़े कागजात
  • पैन कार्ड
  • बैंक अकाउंट विवरण
  • स्वयं का घोषणा पत्र
  • दो व्यक्तियों के प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

राजस्थान हैसियत प्रमाण पत्र 2023 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको ऑनलाइन आवेदन के लिए SSO की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके वेबसाइट का होम पेज खुलकर आपकी स्क्रीन पर आ जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको लॉगइन पेज पर SSO ID, Password और Captcha Code दर्ज कर Login करना होगा। इसके पश्चात् आपको ई मित्र के विकल्प पर क्लिक करना होगा। उसके तुरंत बाद एक नया पेज खुलकर आपके सामने आ जाएगा।
  • इसके बाद Application के ऑप्शन पर क्लिक कर के आपको हैसियत प्रमाण पत्र को Search करना होगा।
  • आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। इस पेज में आपको भामाशाह आईडी कार्ड, जन आधार आईडी, आधार नंबर और ई मित्र पंजीकरण संख्या में से किसी एक को चुनना होगा चयन के बाद आपकी स्क्रीन पर आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई ज़रूरी जानकारी को दर्ज करना होगा। जैसे आवेदक का नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि, ईमित्र पंजीकरण संख्या, नगर निगम और जिला आदि को दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात् आपको स्वघोषणा पत्र के विकल्प पर क्लिक करके मांगे गए सभी आवशयक दस्तावेजों को ऑनलाइन अपलोड करना होगा।
  • आखिर में आपको गंतव्य कार्यालय का चयन कर आपको ऑनलाइन आवेदन शुल्क देना होगा और सबमिट करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म की रसीद निकाल कर आपको अपने पास संभाल कर रखनी होगी।
  • इस पूरी प्रक्रियानुसार आप Rajasthan Haisiyat Praman Patra ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Leave a Comment