BOR UP NIC IN Certificate Verification 2023 | प्रमाण पत्र सत्यापन प्रक्रिया

BOR UP NIC IN Certificate Verification Online 2023– दोस्तों जैसा की हम सभी जानते है के आजकल सारे काम डिजिटलीकरण के माध्यम से बेहद आसान कर दिए गए है जिससे लोगो के समय अथवा पैसे दोनों की खूब बचत होती है। उसी दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से BOR UP NIC IN Certificate की सुविधा जारी कर दी गई है जिसकी मदद से राज्य के नागरिकों अब कोई भी दस्तावेज़ जैसे आय प्रमाण पत्र , जाति एवं निवास प्रमाण पत्र को सही कराने के लिए राजस्व विभाग (BOR) की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करके इसका लाभ प्राप्त कर सकते है इसके लिए अब उनको किसी भी दफ़्तर में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। साथ ही BOR UP NIC IN Certificate Verification की मदद से राज्य के लोग किसी भी सरकारी नौकरी अथवा छात्रवृत्ति या किसी अनिवार्य दस्तावेज़ को सही तरीके से बनवाने के लिए इस पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करके इसका इस्तेमाल कर सकते है।

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना

यहाँ हम आपको बता देते है कि राजस्व विभाग में प्रमाण पत्रों के सत्यापन करने हेतु राज्य के जिन भी नागरिकों ने अपने जाति व निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए 1 अप्रैल साल 2015 के पश्चात् आवेदन किया था अब वह सभी नागरिक बोर्ड ऑफ़ रेवेन्यू पोर्टल पर ऑनलाइन BOR UP NIC IN Certificate Verification करवा सकते है। तो आज हम आपके साथ अपने इस आर्टिकल के माध्यम से BOR UP NIC IN Certificate Verification बारे में कुछ महत्तवपूर्ण जानकारियों को साझा करने जा रहे है आशा करते है की आप हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक बने रहेंगे तो चलिए दोस्तों शुरू करते है |

यूपी राजस्व विभाग के माध्यम से ऑफिसियल वेबसाइट bor.up.nic.in को शुरू क्र दिया गया है जिसकी मदद से राज्य के सभी सरलता से अपने समय एवं पैसे दोनों की बचत करते हुए अपने दस्तावेज़ के सत्यापन का कार्य करा सकते है। अपने दस्तावेज़ों के सत्यपान करने हेतु आवेदको को अपने प्रमाण पत्र की आवेदन संख्या दर्ज करके ही आपना वेरिफिकेशन करवाना होगा।

BOR UP NIC IN Certificate Verification 2023 Highlights

आर्टिकल का नामBOR UP NIC IN Certificate Verification
विभाग का नामउत्तर प्रदेश राजस्व परिषद विभाग
साल2023
उद्देश्यनागरिकों को प्रमाण पत्र सत्यापन की
सुविधा उपलब्ध करवाना
लाभार्थीराज्य के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइट लिंकbor.up.nic.in

BOR UP NIC IN Certificate Verification Online

आज के समय में प्रत्येक नागरिक के पास अपना प्रमाण पत्र जैसे की निवास प्रमाण पत्र , आय प्रमाण पत्र और अगर नागरिक अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति या पिछड़े वर्ग से आते है तो ऐसे में जाति प्रमाण पत्र का होने बहुत महत्तवपूर माना जाता है और जैसा कि हम सभी जानते है। के बिना प्रमाण पत्रों एवं दस्तावेजों के कोई भी नागरिक किसी भी सरकारी योजना के अंतर्गत आवेदन नहीं कर सकता है। उनके पास आवश्यक दस्तावेज़ होने अनिवार्य है इसी सब को नज़र में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के तहत राज्य के नागरिकों को अपने प्रमाण पत्र ऑनलाइन सत्यापन करने की सुविधा प्रदान की गई है। इसके लिए राज्य के सभी नागरिक राजस्व विभाग पोर्टल पर 31 दिसंबर 2023 तक ऑनलाइन की मदद से अपने दस्तावेज़ों को वेरीफाई करवा सकेंगे जिन नागरिकों के दस्तावेज़ 1 अप्रैल 2015 से पहले बनाए गए हुए होंगे केवल वही नागरिक दस्तावेजों का सत्यापन करवा सकेंगे।

UP Gram Panchayat Voter List 

यूपी प्रमाण पत्र सत्यापन का उद्देश्य क्या है ?

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राजस्व परिषद पोर्टल पर ऑनलाइन प्रमाण पत्रों के सत्यापन की सुविधा राज्य के सभी नागरिकों को उपलब्ध कराना है।
  • इस पोर्टल की सहायता से नागरिकों के समय अथवा पैसे दोनों की बचत होगी उनको सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने नहीं पड़ेंगे।
  • राज्य के नागरिक ऑनलाइन के माध्यम से सत्यापन की सुविधा प्राप्त करके अपने प्रमाण पत्रों का वेरिफिकेशन का कार्य करवा सकते है। सकेंगे।
  • प्रमाण पत्रों के सही से वेरीफाई होने पर दस्तावेज़ों में पारदर्शिता बनी रहेगी।
  • इसकी मदद से सरकारी कार्यों में होने वाली धोखा-धड़ी की दर में गिरावट आएगी।
  • इसके माध्यम से डिजिटलीकरण को बढ़ावा मिलेगा।

प्रमाण पत्र सत्यापन के लाभ एवं विशेषताएँ

  •  BOR UP NIC IN Certificate Verification की मदद से राज्य के लोग किसी भी सरकारी नौकरी अथवा छात्रवृत्ति या किसी अनिवार्य दस्तावेज़ को सही तरीके से बनवाने के लिए इस पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करके इसका इस्तेमाल कर सकते है।
  • सभी नागरिक बोर्ड ऑफ़ रेवेन्यू पोर्टल पर ऑनलाइन BOR UP NIC IN Certificate Verification करवा सकते है।
  • अपने दस्तावेज़ों के सत्यपान करने हेतु आवेदको को अपने प्रमाण पत्र की आवेदन संख्या दर्ज करके ही आपना वेरिफिकेशन करवाना होगा।
  • किसी भी आवेदक को सरकारी योजना में अपने डाक्यूमेंट्स का उपयोग करने हेतु अपने दस्तावेजों का ऑनलाइन सत्यापन करवा सकते है।
  • जाति प्रमाण पत्र SC/ST एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के नागरिकों के लिए जारी किए जाते हैं इसका इस्तेमाल करके आवेदकों को बीपीएल राशन कार्ड बनवाने, आदि में लाभ प्रदान किया जाता है।
  • प्रमाण पत्रों के सही से वेरीफाई होने पर दस्तावेज़ों में पारदर्शिता बनी रहेगी।

Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana

यूपी ऑनलाइन सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन की पात्रता

  • इस पोर्टल का इस्तेमाल करने के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी होने अनिवार्य है।
  • राज्य के जिन भी नागरिकों के पास अपने आय, निवास या जाति प्रमाण पत्र उपलब्ध होंगे सिर्फ वह ही नागरिक अपने एप्लीकेशन नंबर की मदद से अपने  प्रमाण पत्रों को वेरीफाई करवा सकते है।
  • जिन नागरिकों के दस्तावेज़ 1 अप्रैल 2015 से पहले बनाए गए हुए होंगे केवल वही नागरिक दस्तावेजों का सत्यापन करवा सकेंगे।

उत्तर प्रदेश ऑनलाइन प्रमाण पत्र सत्यापन कैसे करें ?

  • इसके लिए आवेदक को सबसे पहले राजस्व विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जिसके बाद वेबसाइट का होम पेज आपकी स्क्रीन पर ओपन हो जाएगा।
  •  इस पेज में आपको प्रमाण पत्र का सत्यापन का ऑप्शन दिखाई देगा इस ऑप्शन पर आपको क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही एक नया पेज खुलेगा इस पेज में आपको अपने जिस भी प्रमाण पत्र का सत्यापन करना है उसकी आवेदन संख्या को दर्ज करना होगा।
  • इस तरह से आपकी Online Certificate Verification की प्रक्रिया आसानी से पूरी हो जाएगी

ऑफलाइन प्रमाण पत्र सत्यापन की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश के जिन भी नागरिकों ने साल 2015 से पहले प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन किया था वह सभी आवेदक ऑफलाइन जाति, निवास, आय प्रमाण पत्रों को वेरीफाई करवाने हेतु अपने करीबी तहसीलों से जुड़े एसडीएम व तहसीलदार के माध्यम से अपने दस्तावेज़ों का सत्यापन करवा सकते है।

Leave a Comment